Shayari

सैलाब


बारीक़ कंकरों की चोट से
भी गिर पडूँगी मैं, सुनो हो ।

जर्जराती दिवार सी हूँ अब मैं ।

image


Linking this post with #Monday Musings

monday-musings

Categories: Monday Musing, Shayari, Story Slate | Tags: , | 5 Comments

क्यों ??


मुद्दतें इंतज़ार के बाद किया उसने

इज़हार-ए-इश्क़, तब हस्ब-ए-आरज़ू* मिला ।

फिर अश्क गिरे इन आँखों से क्यों ।

-‘नामी

*हस्ब-ए-आरज़ू – आरज़ू के मुताबिक

image

Categories: Shayari, Story Slate | Tags: , , , , | 4 Comments

Significance


 

On the occasion of Holi, the festival of colors, I share this artwork which is 40 years old. It shows Shri Krishna and Radha playing with colors.

image

Time has changed. There was a time when the love used to be true and pious. There was no show off. Feelings came from Heart, from within. Now feelings come from mind. Sigh !!

 

Below lines try to express the feelings of Radha – Krishna in the present scenario.

 

समय

 

वही रंग, वही पिचकारी

वही तुम, वही मैं

बदले, तो सिर्फ मायने।

image


Linking this post with #Monday Musings, Microblog Mondays and Wordless Wednesday

monday-musings            microblog_mondays

Categories: Microblog Mondays, Monday Musing, Shayari, Story Slate | Tags: , , , | 12 Comments

ख़ामोशी


गिरती ‘गर कागज़ पर तो ये आँसुओं

की बूँदें सब सच सच बयाँ कर आती ।

शुक्र है खतों का दौर नहीं रहा ।

-अ’नामी’

image

Categories: Shayari, Story Slate | Tags: , , , | 2 Comments

स्थिर


दुखी, बेहाल, निराश, हताश, टुटा-बिखरा,

जैसा छोड़ गए थे, वैसी ही हूँ अब तक ।

अ’नामी’

image

Categories: Mish-tories, One Liners, Shayari, Story Slate | Tags: , , , , , , | 2 Comments

लम्हें


उसके न होने के साथ हुआ एक एहसास भी,
हाय, कितने ढेर लम्हें होते है एक ही दिन में ।
-अ’नामी’

image

———————————————–


Linking this post with #Monday Musings

monday-musings

Categories: Microblog Mondays, Monday Musing, One Liners, Shayari, Story Slate | Tags: , , , , , , | 6 Comments

आवाज़


सुन सको तो सुनो

लबों की ख़ामोशी, आँखों की नमी,

और ये कमबख्त, दिल की बेताबी

-अ’नामी’

image

Categories: Hindi Poems, Shayari, Story Slate | Tags: , , , , , , | Leave a comment

एकांत


सुनो, कभी तो पढ़ लो तुम ख़ामोशी मेरी,
आज वीरान है शब्दों का गुलदस्ता मेरा ।
-अ’नामी’

image

Categories: Hindi Poems, Shayari, Story Slate | Tags: , , , | 3 Comments

काश !!


image

इतने आंसू देते हो तुम
काश , मेरे न होते तुम ।
———–

इतने आंसू देती है तू
काश, मेरे हो जाए तू।

Categories: Hindi Poems, Mish-tories, One Liners, Shayari, Story Slate, Wordless Wednesday | Tags: , , , , , | Leave a comment

लफ्ज़-ए-अश्क़


फर्श पर बिखरे हुए
बेजान शब्द उठाए
उसने पिरोई माला
दोहराई दस दफा
किया  इंतज़ार

सुपुर्द-ए-यार
कर दी माला
लबों से नहीं
आँखों से ।

image

Categories: Mish-tories, Shayari, Story Slate | Tags: , , , , , , , | Leave a comment

मक़्ता


मैं भली “नामी” मेरी कलम भली
खुद ही के साथ में पग पग चली।

Categories: Shayari | Tags: , , | Leave a comment

विडंबना


चेहरा हुआ करता था ‘नामी’ आइना दिल का |
अब मैंने भी सीख़ लिया मुखौटा पहनना ।।

image

Categories: One Liners, Shayari | Tags: , , | Leave a comment

नज़रअंदाज़ी


ये भी क्या सितम हुआ ‘नामी’
तोड़ कर वो खुद पूछते है
इतने मुरझाए मुरझाए क्यों दिख रहे हो

Categories: Shayari | Leave a comment

अनकही सीख़


ज़ख़्म पे ज़ख़्म खाना सीख,
ख्वाहिशों को ताक में रखना सीख ।
मन को अपने मार के जी,
पी आंसू के घूँट जी ।

आह न कर, लबों को सी |
ये इश्क़ है ‘नामी’, कोई दिल्लगी तो नहीं ||

Categories: Hindi Poems, Shayari | Tags: , , | Leave a comment

Create a free website or blog at WordPress.com.

Filled to Empty

Filled by God. Poured into others.

Joe's Musings

"You become what you think" - Ralph Waldo Emerson. I think I am a writer, do you agree?

Iain Kelly

Fiction Writing

ifs buts ands etcs...

by Vinodini Iyer

Millys Guide

Life, happiness and mental health from the viewpoint of MIlly the Labrador and Lauren the human.

Forty, c'est Fantastique !

La vie est belle !

हिन्दी साहित्य

hindi sahitya by mithilesh wamankar " मिथिलेश वामनकर का वेब पत्र "__________ मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, छत्तीसगढ, बिहार, झारखण्ड तथा उत्तरांचल की पी.एस.सी परीक्षा तथा संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा के हिन्दी सहित्य के परीक्षार्थियो के लिये सहायक

radhikasreflection

Everyday musings ....Life as I see it.......my space, my reflections and thoughts !!

Elena Square Eyes

Thoughts of a twenty-something film fan, reader and geek

%d bloggers like this: